Entertainment

चुनिंदा शेर आपका इश्क बयां करने में कमाल कर सकती हैं...

चुनिंदा शेर आपका इश्क बयां करने में कमाल कर सकती हैं...

Date : 01-Dec-2019
प्यार के खूबसूरत एहसास को बयां करने के लिए कई बार जब जुबान साथ नहीं देती तो लोग अपने साथी को दिल का हाल बताने के लिए शेर और शायरी का सहारा लेते हैं. पहले के समय में तो ख़त के जरिए दिल की बात कहा करते थे लेकिन अब इसकी जगह मोबाइल मैसेज और फेसबुक स्टेटस ने ले ली है. लेकिन अगर बात इश्क की हो तो प्यार तब भी उतना ही मासूम था जितना भोला वो आज है. जब लोगों को इकरार की पूरी उम्मीद होती है तब भी दिल इजहार-ए-मोहब्बत से डरता है. लेकिन जब साथी के मन की गहराई का बिलकुल पता ही ना हो तब तो प्यार का इजहार करना वाकई काफी मुश्किल होता है. सर्दियों के मौसम में प्यार का एहसास काफी जवां होता है. ऐसे में साथी से दिल की बात कहने की बेकरारी अलग ही होती है. लेकिन हर कोई शब्दों का जादूगर नहीं होता है. कई बार जल्दबाजी में गलत शब्दों के इस्तेमाल से आपके प्यार की बाजी पलट भी सकती है. इसलिए आइए आज आपके लिए पेश करते हैं कुछ ऐसी ख़ास चुनिंदा शेर और शायरियां जो आपके साथी से आपका इश्क बयां करने में कमाल कर सकती हैं... 1.अब जुदाई के सफ़र को मिरे आसान करो तुम मुझे ख़्वाब में आ कर न परेशान करो- मुनव्वर राना 2.और भी दुख हैं ज़माने में मोहब्बत के सिवा राहतें और भी हैं वस्ल की राहत के सिवा- फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ 3. और क्या देखने को बाक़ी है आप से दिल लगा के देख लिया- फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ 4. दोनों जहान तेरी मोहब्बत में हार के वो जा रहा है कोई शब-ए-ग़म गुज़ार के- फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ 5. किस किस को बताएँगे जुदाई का सबब हम तू मुझ से ख़फ़ा है तो ज़माने के लिए आ- अहमद फ़राज़ 6.हुआ है तुझ से बिछड़ने के बा द ये मा लूम कि तू नहीं था तिरे साथ एक दुनिया थी- अहमद फ़राज़

Related Topics