National

दोस्त के न आने पर एनआईटी की छात्रा ने फाँसी लगा ली

दोस्त के न आने पर एनआईटी की छात्रा ने फाँसी लगा ली

Date : 10-Aug-2019
रायपुर 10 अगस्त । रायपुर स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एनआईटी) की एक छात्रा जो केमिकल इंजीनियरिंग की रिसर्च स्कॉलर थी।उसने गले में फांसी का फंदा डालकर अपने आप को मौत के हवाले कर दिया। लड़की ने गले में फांसी का फंदा डालकर अपने दोस्त को वीडियो कॉल किया और उसे रायपुर आने के लिए कहा। दोस्त ने मना किया, तो दुखी छात्रा फंदे से लटक गई। इससे उनकी मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक डीडीनगर के शहनाई गार्डन के पीछे पेइंग गेस्ट में रहने वाली संध्या सुरेश गेडाम (25) एनआईटी की रिसर्च स्कॉलर थीं। बुधवार को सुबह करीब 11 उन्होंने अपने नागपुर के इंजीनियर दोस्त आशुतोष को कॉल किया और रायपुर आने के लिए कहा। उसने इनकार कर दिया। इससे दुखी होकर संध्या ने सिलिंग फेन में चुनरी का फंदा बनाया और अपने गले में डाल लिया। इसके बाद आशुतोष को वीडियो कॉल किया और फांसी लगाने की जानकारी देते हुए फिर बुलाया। आशुतोष समझाने की कोशिश करने लगा। इतने में संध्या ने मोबाइल बंद कर दिया और फंदे पर झूल गई। अनहोनी की आशंका से आशुतोष घबरा गया और संध्या के आसपास रहने वाले उसके दोस्तों को फोन करके घटना की जानकारी दी। दोस्तों ने कॉलेज को जानकारी दी। इसके बाद संध्या के कमरे में पहुंचे। उनका दरवाजा भीतर से बंद था। दरवाजा तोडकऱ भीतर घुसे, तो संध्या फांसी के फंदे पर लटकते हुए मिली। उसे तत्काल नीचे उतारा गया। बताया जाता है कि उस समय उसकी सांसे चल रही थी। छात्रा को तत्काल आंबेडकर अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए मरच्यूरी में रखवा दिया गया। मृतका मूलत: नागपुर की रहने वाली थी।घटना की सूचना मिलने के बाद गुरुवार को परिजन रायपुर पहुंचे। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। पुलिस का दावा, कॉलेज फ्रेंड से की बात मामले की जांच कर रहे डीडीनगर थाने के एसआई सोमित्री भोई ने बताया कि छात्रा की खुदकुशी की गुरुवार को शाम 4 बजे मिली थी। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि खुदकुशी से पहले संध्या ने नागपुर के आशुतोष से वीडियो कॉलिंग पर बातचीत की है। वह उसे रायपुर बुला रही थी। आशुतोष और संध्या नागपुर में एक साथ इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुके हैं। तनाव में रहती थी छात्रा पुलिस के दावों के अलावा आसपास के छात्र-छात्राओं का कहना है कि संध्या पढ़ाई को लेकर काफी दबाव में थी। इसके चलते वह तनाव में रहती थी। आशुतोष से भी इसी बात को लेकर चर्चा करती रहती थी। उल्लेखनीय है कि संध्या पिछले एक साल से रायपुर में रहकर केमिकल इंजीनियरिंग में रिसर्च कर रही थी। शुक्रवार की छात्रा की मौत पर एनआईटी में शोकसभा का आयोजन किया गया

Related Topics